सुबह उठकर ये ६ कार्य करे जो आपका जीवन बदल बदल सकता

रचनात्मक और उत्पादक सुबह रचनात्मक और उत्पादक दिनों के लिए नेतृत्व करते हैं। ये 6 सुबह की आदतें हैं जो आपके जीवन को बदल सकती हैं: किसी महान पुरुष ने कहा है की दुनिया के ज्यादातर सफल व्यक्ति पुरे दिन का काम सुबह के १ घंटे में कर लेते है

निम्नलिखित इन ६ नियमो को ध्यान से पढ़िए

१. ध्यान – प्रतिदिन सुबह जागने के पश्चात् आपको एकांत वातावरण में ५ से १० मिनट के ध्यान लगाना चाहिए क्योकि ध्यान लगाने से हमारी भावनाओ में नियंत्रण होता है एवं भावनाओ को नियंत्रित करना सफलता का प्रथम कदम होता है ।
यदि हमारी भावनाओ नियंत्रित है तो हम हर परस्थिति में एक समान व्यवहार करेंगे एवं अपनी शिक्षा या काम से भटक नहीं सकते है ।

२. व्यायाम – जिस प्रकार से एक शरीर को जीवित रखने के लिए हमे भोजन की आवश्यकता होती है । ठीक उसी प्रकार से एक स्वस्थ शरीर को व्यायम की आवश्यकता होती है तो हमे प्रतिदिन ध्यान करने के पश्चात व्यायाम करना चाहिए । व्यायाम करने के अनेक लाभ है जैसे की स्वस्थ शरीर होता है एवं दिन भर शरीर ऊर्जावान रहता है जिससे हम बिना किसी आलस्य के मन लगाकर अपने काम को कर सकते है ।

आप क्या है – सुबह सुबह आपको अपने बारे में सोचना चाहिए की आप वर्तमान में क्या है ? क्या करते है ? क्या आप अपने नौकरी या व्यसाय से खुश है ? यदि आपका जीवन सुचारु रूप से अग्रसर है तो आप और आगे बढ़ने की कोसिस करेंगे और यदि जीवन सही नहीं चल रहा है तो आपको अपने जीवन के लक्ष्य को पूरा करने का उद्देश्य मिल जाएगा ।

.दृश्यम – जीवन में क्या बनाना चाहते है अपने आप को अपने वाले समय में कहा देखना चाहते है . इस बारे में प्रीतिदिन आपको १० मिनट तक सोचना चाहिए. ऐसा करने से आपके अंदर एक ख़ुशी की लहर दौड़ेगी एवं आप कार्य करने के खुद से प्रेरित होंगे ।उस सपने को हासिल करने के अपने आप को कल्पना करें और इसे प्राप्त करने के लिए किए जाने वाले कार्यों को पूरा करने और आनंद लेने का भी विचार करें।

५.पढाई – यदि आप दिन में 10 पेज पढ़ना चाहते थे, तो एक वर्ष में आपने 3650 पेज पढ़े हैं। यह लगभग 18 किताबें है। यदि आप अगले 12 महीनों में 18 किताबें पढ़ेंगे, तो क्या आपके जीवन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा? एक पुस्तक चुनते समय, खुद से पूछें: “मैं इस पुस्तक से क्या हासिल करना चाहता हूं? मैं इसे कैसे लागू करना चाहता हूं? “। अपनी सुबह पढ़ने के दौरान, उसी पुस्तक से एक विशिष्ट विचार Mircleoringप्राप्त करने का प्रयास करें जिसे आप उसी दिन लागू कर सकते हैं।

६.लेखन -लेखन आपकी खोजों, विचारों और उपलब्धियों पर प्रतिबिंबित करने के लिए जीवन में स्पष्टता बनाने के लिए एक शक्तिशाली उपकरण है। यह आपके साथ चिकित्सा की तरह है। आप इस बारे में लिख सकते हैं कि आप किस चीज के लिए आभारी हैं, आप अपने जीवन में क्या सुधारना चाहते हैं, उन कार्यों के लिए योजना बनाएं जिन्हें आप लेना चाहते हैं या सिर्फ एक डायरी रखें जहां आप पिछले दिन के दौरान अनुभव की जाने वाली रोचक चीज़ों को चिह्नित करते हैं।

कई क्रिएटिव अपने दिमाग को साफ़ करने के लिए सुबह के पृष्ठों का उपयोग करते हैं। सुबह के पृष्ठों के साथ आप जो भी अपने दिमाग में आता है उसके 3 पृष्ठ लिखते हैं। वर्तनी त्रुटियों, आपकी हस्तलेख या विचारों की संरचना के बारे में चिंता न करें, बस लिखें। शुरुआत में यह मुश्किल हो सकता है, लेकिन एक बार जब आप इसे प्राप्त कर लेते हैं, तो आप उस लेखन प्रवाह के बारे में आश्चर्यचकित होंगे जो आप विकसित करना शुरू कर देंगे

विस्तृत जानकरी के लिए आपको एक बार miracle morning पुस्तक को जरूर पढ़ना चाहिए .

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social media & sharing icons powered by UltimatelySocial